Home » Shayari » Zindagi Shayari | ज़िन्दगी शायरी
zindagi shayari

Zindagi Shayari | ज़िन्दगी शायरी

Spread the love

Zindagi Shayari 2 line

जुगनुओं की रोशनी से तीरगी हटती नहीं,
आइने की सादगी से झूठ की पटती नहीं,
ज़िंदगी में गम नहीं फिर इसमें क्या मजा,
सिर्फ खुशियों के सहारे ज़िंदगी कटती नहीं।


अब समझ लेता हूँ मीठे लफ़्ज़ों की कड़वाहट,
हो गया है ज़िन्दगी का तजुर्बा थोड़ा थोड़ा।


राह संघर्ष की जो चलता है,
वो ही संसार को बदलता है।
जिसने रातों से जंग जीती है,
सूर्य बनकर वही निकलता है।

zindagi shayari


प्यार तब तक रहता है जब तक की वजूद और
मौजूद की बात हो-नहीं तो जरुरी और
मज़बूरी रस्ते ही बदल देते है.


Shayari On Zindagi

जाना कहा था और कहां आ गए,
दुनिया में बन कर मेहमान आ गए,
अभी तो प्यार की किताब खोली थी,
और न जाने कितने इम्तिहान आ गए।

Shayari On Zindagi


डरते है आग से कही जल न जाये
डरते है ख्वाब से कहीं टूट न जाये
लेकिन सबसे ज़्यादा डरते है आपसे
कहीं आप हमें भूल न जाये।


ये सोच कर अपनी हर हँसी बाट दी मेने
कि किसी ख़ुशी पर मेरा भी नाम हो जाए
मुख़्तसर सा सफर है मेरा कोन जाने कब
मेरे इस सफर की आखरी शाम हो जाए.

हम आशा करते है की आपको यह Zindagi Shayari का कलेक्शन पसंद होगा और आपने इस पोस्टअपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों के साथ शेयर भी किया होगा।

हमारी और पोस्ट भी पढ़ें

 

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *